Tarbandi Yojana: खेत में आवारा पशु अब नहीं करेंगे परेशान, तारबंदी करने के लिए सरकार देगी 48 हजार रुपये

आज के समय में देश के किसान भाइयों को खेती करने में काफी सारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है, देश के किसानों की आय में वृद्धि और उनके भविष्य को सुरक्षित रखने के लिए केंद्र सरकार की तरफ से और राज्य सरकार की तरफ से काफी सारी योजनाएं चलाई जा रही है, इन योजनाओं का उद्देश्य किसानों के पास आने वाली आर्थिक दिक्कतों को दूर करना है, जैसे कि कई किसान खेतों में आवारा पशुओं की समस्या से काफी ज्यादा परेशान होते हैं और आर्थिक तंगी के कारण खेतों में तारबंदी नहीं करवा पा रहे हैं।

हर साल की तरह इसी साल भी कई सारे किसान भाई हमारा पशु से परेशान हो चुके हैं और उनकी फसल भी काफी ज्यादा खराब हो चुकी है जिससे किसान भाइयों की फसल काफी ज्यादा खराब होती है और किसान भाइयों को अपनी फसल की दिन-रात रखवाली करनी पड़ती किसने की इसी समस्या को देखते हुए तारबंदी योजना की शुरुआत की गई है किस प्रकार से आप इस योजना का लाभ ले सकते हैं आज हम आपको इसके बारे में डिटेल में जानकारी देने वाले हैं।

ताराबंदी योजना की लाभ और पात्रता

राजस्थान सरकार की तरफ से राज्य के किसानों को खेतों में तारबंदी करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है इस योजना के तहत प्रदेश सरकार राज्य के लघु एवं सीमांत किसानों को तारबंदी योजना के तहत 48000 यानी की 60% तक और दूसरे किसानों को ₹40000 यानी की 50% तक का अनुदान प्रदान कर रही है।

इसके साथ ही सामुदायिक आवेदन में 10 या फिर अधिक किस के समूह में न्यूनतम 5 हेक्टेयर में तारबंदी किए जाने पर लागत 70% या अधिक होने पर 56000 जो भी किसान भाई है उन सभी को हर एक किसान को 400 रनिंग मीटर तक अनुदान दिया जाएगा।

इसके साथ ही ट्राइबल एरिया में अनुसूचित जनजाति क्षेत्र के व्यक्तिगत आधार पर तारबंदी के लिए जमीन की सीमा 1.5 हेक्टेयर से घटा करके 0.5 हेक्टेयर कर दी गई है इसके साथ ही समान में किसानों के लिए अनुदान 50% या फिर अधिकतम प्रदान किया जाएगा इसके साथ लघु एवं सीमांत किसान भाइयों को लागत का 60% या फिर अधिकतम 48000 भुगतान किया जाएगा।

आवेदन करने वाले किसान भाइयों के पास भूमि एक स्थान पर होना आवश्यक है इसके साथ ही 10 या अधिक किसानों के समूह में न्यूनतम 5 हेक्टेयर भूमि निर्धारित पेरीफेरी होने चाहिए तभी आवेदन कर सकते हैं।

तारबंदी योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया

कांटेदार तारबंदी योजना के लिए जितने भी किसान भाई लाभ लेना चाहते हैं वह सभी अपने नजदीकी ईमित्र या फिर राजस्थान किसान साठी पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन माध्यम से आवेदन फॉर्म भर सकते हैं इसके लिए किसान भाई के पास आधार कार्ड जन आधार कार्ड जमाबंदी की नकल बैंक पासबुक डिटेल और पासपोर्ट साइज फोटो और अन्य सभी प्रकार के दस्तावेज होने चाहिए।

तारबंदी योजना में आवेदन करने के बाद इसका भौतिक सत्यापन किया जाएगा यह सत्यापन सही होता है सभी प्रकार की जानकारी सही वेरीफाई होती है तो नियम अनुसार अनुदान राज किसानों के जन आधार कार्ड से जुड़े बैंक खाते में ट्रांसफर कर दी जाएगी।

Tarbandi Yojana Check 

ऑनलाइन आवेदन फार्म =  यहां से भरें

Leave a Comment